Fact Check: क्या चाय पीने से नहीं होता है कोरोना? जानिए क्या है सच्चाई

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) से इन दिनों भारत में हर तरफ तबाही मची है. हर रोज़ 4 लाख से ज्यादा नए केस सामने आ रहे हैं. इसके अलावा हर दिन 4 हज़ार से ज्यादा लोगों की जान जा रही है. इस वायरस से बचने का उपाय सिर्फ वैक्सीन, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग है. लिहाजा सोशल मीडिया पर इस जानलेवा वायरस से बचने के लिए लोग तरह-तरह के नुस्खे आजमा रहे हैं. इस चक्कर में कई लोग फेक न्यूज़ में भी फंस जाते हैं. इसी कड़ी में इन दिनों एक खबर फैलाई जा रही है कि ज्यादा से ज्यादा चाय पीने पर कोरोना से बचा जा सकता है. आखिर क्या है इसकी सच्चाई आईए ये जानने की कोशिश करते हैं.

सोशल मीडिया पर एक अखबार की क्लिप शेयर की जा रही है. इसके हेडलाइन में लिखा है, ‘खूब चाय पीओ व पिलाओ चाय पीने वालों के लिए खुशखबरी. आगे इस खबर में दावा किया गया है कि चाय पीने से कोरोना वायरस के संक्रमण को रोका जा सकता है और इससे संक्रमित व्यक्ति जल्दी स्वस्थ भी हो सकता है.’

क्या है दावा?
कुछ लोग सोशल मीडिया पर ये भी दावा कर रहे हैं कि चीन के अस्पतालों ने कोविड-19 से जूझ रहे अपने मरीज़ों को दिन में तीन बार चाय देना शुरू कर दिया. इसका उन्हें फायदा भी हुआ. मैसेज में अमेरिका के CNN न्यूज़ चैनल का हवाला देते हुए कहा गया है कि चीन के कोरोना वायरस विशेषज्ञ अपनी मौत से पहले ये बता कर गए कि Methylxanthine, Theobromine और Theophylline केमिकल कोरोना वायरस को मार सकते हैं. ये तीनों केमिकल चाय में पाए जाते हैं.

फेक है खबर
सरकार ने अपने ट्विटर हैडल पर इस खबर को फेक बताया है. PIBFactCheck के मुताबिक ये दावा फर्जी है. इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि चाय के सेवन से कोरोना के संक्रमण का खतरा कम किया जा सकता है. लिहाजा इन खबरों को झूठा बताया गया है, यानी आगे से आपको सोशल मीडिया पर ऐसी खबर दिखे तो फिर आप उसे फॉरवार्ड न करें.

source:news18

0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: