दिल्ली में शुरू होगा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक, 2 घंटे में होगी होम डेलिवरी: CM केजरीवाल

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने दावा किया है कि शनिवार से राज्य सरकार ने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक की शुरुआत करने जा रही है. सीएम ने कहा कि दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले धीरे-धीरे कम हो रहे हैं. पिछले 24 घंटों में 6500 नये कोरोना के मामले आये हैं. कोरोना संक्रमण दर घटकर 11 फीसदी हो गई है. जबकि कल 8500 नए कोरोना के मामले आये थे. आज से दिल्ली सरकार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक शुरू करने जा रही है.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि कोरोना के मरीज को ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के लिए ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक बनाया जा रहा है. घरों तक दो घंटों में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर हमारी टीम देकर आएगी. कई बार मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद भी डॉक्टर की सलाह पर ऑक्सीजन लेने की जरूरत होती है. ऐसे मरीजों को भी इस सुविधा का लाभ मिलेगा.

इस तरह मिलेगी सुविधा

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के हर जिले में 200-200 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक बनाया है. ऐसे मरीज जिनका इलाज घर पर हो रहा है जो होम आइसोलेशन में है और उन्हें ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है तो 2 घंटों में हमारी टीम ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उन तक पहुंचा देगी. कोई टेक्नीकल आदमी भी जाएगा जो उस घर के आदमियों को समझा कर आएगा कि ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को कैसे इस्तेमाल करना है. हमारे डॉक्टर ऐसे सभी लोगों के संपर्क में रहेंगे जिन्हें ऑक्सीजन कंसंट्रेटर दिया गया है. अगर उन्हें अस्पताल भेजने की जरूरत पड़ी तो उन्हें अस्पताल भी भेजा जाएगा और जब मरीज ठीक हो जाएंगे तो उनसे ऑक्सीजन कंसंट्रेटर वापस लेकर सैनेटाइज किया जायेगा और फिर उसे किसी दूसरे मरीज को दिया जाएगा.
सीएम ने कहा कि अगर किसी मरीज को कोरोना है और वो होम आइसोलेशन का हिस्सा नहीं है तो 1031 पर कॉल करके हमारे होम आइसोलेशन का हिस्सा बन सकते है और ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की मांग कर सकते हैं. हमारी डॉक्टर की टीम यह सुनिश्चित करेगी कि क्या आपको ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जरूरत है या नहीं. ओला फाउंडेशन और गिव इंडिया ऑक्सीजन कंसंट्रेटर को हर घर तक पहुंचाने में दिल्ली सरकार की मदद कर रहे हैं.

500 बेड होंगे तैयार
सीएम केजरीवाल ने कहा कि कल 500 आइसीयू बेड और बनकर तैयार हो जाएंगे और अभी 4 दिन पहले ही 500 और ऐसे ही बेड तैयार किए थे. डॉक्टरों, इंजीनियरोंं और कामगारों ने सिर्फ 15 दिनों में 1000 आइसीयू बेड तैयार कर दिए. दुनिया भर के लिए एक मिसाल है. बता दें कि दिल्ली सरकार ने बीते शुक्रवार को भी कोरोना संक्रमण से प्रभावितों के लिए बड़ा ऐलान किया था. इसके तहत उन बच्चों की पढ़ाई का जिम्मेदारी सरकार ने उठाने वादा किया है, जिनके पालक की मौत कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण हुई है. इतना ही नहीं कोरोना के कारण बेसहारा हुए बुजुर्गों की देखभाल भी करने का वादा दिल्ली सरकार ने किया है.

source:news18

0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: