बरगद का पेड़ है सेहत के लिए फायदेमंद, जानें कैसे

Banyan Tree Benefits- बरगद के पेड़ के बारे में तो आप जानते ही होंगे. इसका वैज्ञानिक नाम फाइकस बेंगालेंसिस (Ficus Benghalensis) है. ये पेड़ हिन्दू धर्म में हमेशा से पूजनीय रहा है. तो दूसरी ओर इसको हमारे राष्ट्रीय वृक्ष के रूप में भी मान्यता मिली हुई है (Its also recognized as national tree). इसके साथ ही ये भारत के इतिहास और लोक कथाओं का हिस्सा भी रहा है. लेकिन इसकी ख़ास बात ये भी है कि ये पेड़ कई सारे औषधीय गुणों से भरपूर (Full of medicinal properties) है. इसमें मौजूद तत्वों की बात करें तो इसमें एंथोसाइनिडिन, कीटोंस, फिनोल, टैनिन्स, सैपोनिंस, स्टेरोल्स और फ्लेवोनॉयड जैसे तत्व पाए जाते हैं. विशेषकर बरगद की पत्तियों में जो पोषक तत्व मौजूद रहते हैं उनमें प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम और फास्फोरस जैसे तत्व शामिल हैं. आइए जानते हैं ये पेड़ किस तरह से सेहत को फायदे पहुंचाता है.

दांत और मसूड़ों को स्वस्थ रखने में मददगार

बरगद का पेड़ दांतों में सड़न और मसूड़ों में सूजन की समस्या को कम करने में मदद करता है. पेड़ की जड़ को चबाकर मुलायम करने के बाद इसको मंजन या दातून की तरह से इस्तेमाल किया जा सकता है. पेड़ में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं. जो दांतों और मसूड़ों की दिक्कत को कम करने में सहायता करते हैं.

 कई बार स्किन पर फोड़े-फुंसी और दाने निकलने लगते हैं. इसको दूर करने के लिए बरगद की जड़ को इस्तेमाल में लाया जा सकता है. इसके लिए आप इसकी जड़ को पीसकर इसका लेप बनाकर त्वचा पर लगा सकते हैं. पेड़ में मौजूद एंटी-माइक्रोबियल तत्व बैक्टीरिया को नष्ट करने में मदद करते हैं और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण सूजन को रोकने में सहायता करते हैं.

जोड़ों का दर्द दूर करने में सहायक

बरगद का पेड़ जोड़ों के दर्द की समस्या को दूर करने में भी सहायता करता है. इस तकलीफ से राहत पाने के लिए बरगद के पेड़ की पत्तियों का अर्क निकाल कर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है. इस अर्क को दर्द वाली जगह पर लगाकर कुछ देर हल्के हाथों से मालिश करने से राहत मिलती है. इसमें मौजूद एंटी इंफ्लेमेटरी गुण सूजन को कम करने में मदद करते हैं और दर्द से राहत देते हैं.

खुजली की दिक्कत दूर करने में मददगार

स्किन पर होने वाले बैक्टीरियल इन्फेक्शन की वजह से कई बार खुजली जैसी दिक्कत हो जाती है. इसको दूर करने के लिए बरगद के पत्ते या इसकी छाल का इस्तेमाल किया जा सकता है. इसके लिए आप बरगद के पत्ते या इसकी छाल का लेप बनाकर प्रभावित जगह पर लगा सकते हैं. बरगद में मौजूद एंटी-माइक्रोबियल गुण खुजली की दिक्कत को दूर करने में मददगार साबित होता है.

source:news18

0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: