‘अनुपमा’ हो या ‘इमली’.. हर टीवी शो की एक ही कहानी, एक हीरो के पीछे पड़ी हैं दो-दो नारी

ड‍िजिटल स्‍पेस के बढ़ते दबदबे और लोगों के बीच बढ़ी इसकी पहुंच के बाद से ही ‘स्‍क्र‍िप्‍ट’ की मजबूती की बात और जोर से होने लगी है. ‘कंटेंट इज द क‍िंग’ जैसे जुमले आपने कई एक्टर्स और डायरेक्‍टर्स के मुंह से सुने होंगे. लेकिन लगता है इंडियन टीवी सीरियल्‍स की दुनिया में अब भी ‘फॉर्म्‍युला मेकिंग’ ही सबसे सफल मंत्र साबित हो रहा है. टीआरपी चार्ट में नंबर 1 स्‍लॉट पर कब्‍जा जमाए रखना वाला शो ‘अनुपमा’ (Anupamaa) हो या फिर सई और पत्रलेखा की कैटफाइट के चलते टीआरपी बटौर रहा ‘गुम है क‍िसी के प्‍यार में’ (Ghum Hai Kisikey Pyaar Mein), या ‘इमली’ (Imlie) टीवी के सभी शोज की थीम इन दिनों एक ही फॉर्म्‍युला के ईद-ग‍िर्द स‍िमट गई है.

प‍िछले साल लगे लॉकडाउन के बाद अचानक कई सीरियल्‍स की शूटिंग बंद हो गई थी. लॉकडाउन खुलने के बाद भी कई सीरियल्‍स वापस शुरू ही नहीं हो पाए जैसे परिधि शर्मा और अन‍िरुद्ध दवे का सीरियल ‘पटियाला बेब्‍स’. लॉकडाउन खुलने के बाद ही दर्शकों को फिर से अपने साथ जोड़ने के लिए कई नए सीरियल शुरू हुए ज‍िनमें, ‘साथ न‍िभाना साथिया 2’, ‘गुम है क‍िसी के प्‍यार में’, ‘इमली’, ‘अनुपमा’ जैसे कई शोज शाम‍िल हैं. यूं तो सीरियल्‍स अलग-अलग थीम के साथ शुरू हुए लेकिन इन द‍िनों सभी सीरियल्‍स का एक ही ट्रैक चल रहा है, और वो है, एक हीरो और उसके ल‍िए लड़ती 2 हीरोइनें.

18वें हफ्ते की टीआरपी में नंबर 1 बना ‘गुम है क‍िसी के प्‍यार में’ में इन दिनों व‍िराट के पीछे लड़ती सई और पत्रलेखा का ट्रैक चल रहा है. वहीं दूसरी तरफ रूपा गांगुली और सुधांशू पांडे के शो ‘अनुपमा’ में अनुपमा और वनराज का तलाक हो रहा है, क्‍योंकि वनराज की ज‍िंदगी में दूसरी औरत काव्‍या है. ‘साथ न‍िभाना साथिया 2’ में अनंत के लिए गहना और राधि‍का का क्‍लेश भी दर्शकों को खूब पसंद आ रहा है. बात करें शो ‘इमली’ की तो इसकी थीम ही 2 शादियां करने वाले एक आदमी की थी, लेकिन अभी तक इमली कुर्बान‍ियां देने में लगी थी, पर अब इमली, माल‍िनी और आदित्‍य के बीच र‍िश्‍तों की जंग साफ देखी जा सकती है.

source:news18

0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: