World Environment Day 2021: इस साल पाकिस्‍तान करेगा विश्व पर्यावरण दिवस की मेजबानी, जानें क्‍या है इस साल की थीम

World Environment Day 2021 : पर्यावरण को सुरक्षा प्रदान करने के‍ उद्देश्‍य से हर साल की तरह इस साल भी 5 जून को विश्‍व पर्यावरण दिवस दुनियाभर में मनाया जाना है. जैसा कि हम जानते है कि पेड़ों की अत्‍यधिक कटाई की वजह से पर्यावरण को पिछले कुछ दशकों में काफी नुकसान हुआ है. इसकी वजह से अब दुनियाभर के इकोसिस्‍टम में तेजी से बदलाव देखने को मिल रहे हैं. पर्यावरण का बिगड़ता संतुलन और बढ़ते प्रदूषण से पूरी दुनिया जूझ रही है. इन गंभीर समस्‍याओं से उबरने का एक मात्र उपाय दुनियाभर के पर्यावरण को हरा भरा बनाना है. यह तभी संभव है जब लोग पेड़ों के संरक्षण के प्रति जागरुक हों. इसी जरूरत को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र संघ (United Nations Organisation)  की पहल पर विश्‍व पर्यावरण सुरक्षा को लेकर जागरुकता फैलाने के लिए विश्‍व पर्यावरण दिवस मनाने की शुरूआत साल 1974 में की गई थी जिसे हर साल नए थीम के साथ मनाया जाता है.

पाकिस्‍तान कर रहा है मेजबानी

इस साल संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) की साझेदारी में पाकिस्‍तान विश्व पर्यावरण दिवस 2021 की मेजबानी करने जा रहा है. वर्चुअल फिफ्थ यूएन एनवायरनमेंट असेंबली (यूएनईए-5) के कार्यक्रम में घोषणा करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के सलाहकार और जलवायु परिवर्तन मंत्री मलिक अमीन असलम ने दुनिया भर में पारिस्थितिक तंत्र के क्षरण को रोकने और इसकी पुर्नबहाली की आवश्यकताओं की बात कही थी. बता दें कि पाकिस्तान की सरकार ने अगले पांच वर्षो में 1000 करोड़ ‘ट्री सुनामी पहल’ के तहत देश में जंगलों के विस्तार और पुनस्‍थापन की योजना बनाई है. यही नहीं, इस कैम्पेन में पाकिस्‍तान मैन्ग्रोव और जंगलों को पुनस्‍थापित करने, स्कूल, कॉलेज, पार्क वगैरह सहित शहर के अन्य कई इलाकों में वृक्षारोपण की योजना पर काम कर रहा है.

क्‍या है इस बार की थीम

विश्व पर्यावरण दिवस 2021 की थीम इस साल इकोसिस्‍टम रेस्‍टोरेशन (Ecosystem Restoration) यानी कि पारिस्थितिकी तंत्र बहाली है. इकोसिस्‍टम रेस्‍टोरेशन के तहत पेड़ लगाकर या पर्यावरण की रक्षा कर प्रदूषण के बढ़ते स्तर को कम करना और इकोसिस्‍टम पर बढ़ते दबाव को कम करना है. बता दें कि विश्व पर्यावरण दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य दुनियाभर में लोगों के बीच पर्यावरण प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन, ग्रीन हाउस के प्रभाव, ग्लोबल वार्मिंग, ब्लैक होल इफेक्ट आदि ज्वलंत मुद्दों और इनसे होने वाली विभिन्न समस्याओं के प्रति सामान्‍य लोगों को जागरूक करना है और पर्यावरण की रक्षा के लिए उन्‍हें हर संभव प्रेरित करना है.

source:news18

0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: