WTC Final: फाइनल के लिए पिच तैयार, टीम इंडिया और विराट कोहली हो सकते हैं परेशान

साउथम्प्टन. पहले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल की पिच तैयार है. फाइनल मैच 18 से 22 जून तक भारत और न्यूजीलैंड के बीच साउथम्पटन में होना है. इंग्लैंड की पिच तेज गेंदबाजों के अनुकूल मानी जाती है. फाइनल मैच की भी पिच ऐसी है. ऐसे में न्यूजीलैंड की टीम को थोड़ी बढ़त है, क्योंकि वह इंग्लैंड को ऐसी ही पिच पर हराकर आ रही है. आईसीसी की ओर से पहली बार टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है. ऐसे में सभी की नजर फाइनल पर है.

साउथम्पटन के ग्राउंड्समैन के हेड और पिच क्यूरेटर सिमोन ली ने क्रिकइंफो से कहा कि पिच पर अच्छा बाउंस और पेस होगा. उन्होंने कहा, ‘मैं व्यक्तिगत रूप से चाहता हूं कि पिच पर अच्छी गति, उछाल और कैरी हो. इंग्लैंड में हालांकि यह करना मुश्किल होता है, क्योंकि मौसम अधिकतर खराब रहता है.’ उन्होंने कहा कि लेकिन मौसम को लेकर पूर्वानुमान अच्छा है. धूम रहेगी. ऐसे में हम तेज और उछाल वाली पिच बनाने में कामयाब रहेंगे.

सिमोन ली ने कहा, ‘लाल गेंद क्रिकेट को रोमांचक बनाता है. मैं एक क्रिकेट फैन हूं और मैं एक ऐसी पिच बनाना चाहता हूं, जहां क्रिकेट प्रेमी को हर गेंद देखना पड़े. चाहे वह अच्छी बल्लेबाजी हो या शानदार गेंदबाजी का स्पेल.’ उन्होंने कहा कि मेडन ओवर काफी रोमांचक होता है. अगर गेंदबाज और बल्लेबाज के बीच अच्छी लड़ाई होती है तो. ऐसे में पिच पर गति और उछाल होगी. लेकिन सिर्फ तेज गेंदबाजों को ही फायदा नहीं होगा.

अंतिम दो दिन स्पिन गेंदबाजों को मिल सकती है मदद                 
मौसम पूर्वानुमान के अनुसार सभी पांच मैच के दिन तापमान 20 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहेगा और हल्की बारिश की संभावना है. सिमोन ली का मानना है कि हालात अधिक शुष्क रहे तो अंतिम दो दिन स्पिन गेंदबाज भी महत्वपूर्ण रहेंगे. उन्होंने कहा कि यहां की पिच जल्दी सूख जाती है, क्योंकि यहां मिट्‌टी में रेत मिली हाेती है. लेकिन हम ऐसी पिच बनाने चाहते हैं जिससे सभी खिलाड़ियों काे अपना कौशल दिखाने का मौका मिले.

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने किया फोन

सिमाेन ली ने बताया कि जब टीम इंडिया के खिलाड़ी यहां पहुंचे थे तो वे हमें बालकनी से देख रहे थे क्योंकि वे तब क्वारंटाइन में थे. उन्होंने बताया कि टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने उन्हें फोन करके उनके कुत्ते के नाम भी पूछा. सिमोन ली के साथ उनका कुत्ता विंस्टन भी मैदान पर रहता है. बतौर कोच रवि शास्त्री भी आईसीसी ट्रॉफी अपने नाम करना चाहेंगे. विराट कोहली भी बतौर कप्तान अब तक एक भी आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत सके हैं.

source:news18
0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: