ड्रोन हमले में गई 7 आम लोगों की जान, नाराज तालिबान ने कहा- कोई खतरा था तो हमें बताता अमेरिका

काबुल. तालिबान (Taliban) के एक प्रवक्ता ने कहा कि रविवार को काबुल (Kabul) में संदिग्ध आत्मघाती हमलावर को निशाना बनाकर किए गए अमेरिकी ड्रोन हमले में नागरिक हताहत हुए. प्रवक्ता ने अमेरिका द्वारा हमला करने की जानकारी तालिबान को ना देने पर भी नाराजगी जताई है. तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने सोमवार को चीन के सरकारी टेलीविजन सीजीटीएन से कहा कि अमेरिकी ड्रोन हमले में सात लोग मारे गए. साथ ही उन्होंने अमेरिकी कार्रवाई को विदेशी धरती पर गैरकानूनी बताया. मुजाहिद ने सीजीटीएन को दिए एक जवाब में कहा, ‘अगर अफगानिस्तान में कोई  खतरा था तो मनमाना हमला करने के बजाय हमें इसकी सूचना दी जानी चाहिए थी.’

इससे पहले तालिबान के प्रवक्ता ने कहा था कि अमेरिकी सेना के हवाई हमले में एक गाड़ी में बैठे आत्मघाती हमलावार को निशाना बनाया गया है जो अमेरिका के देश से जाने के बीच हवाई अड्डे पर हमला करने की फिराक में था. प्रवक्ता ने पत्रकारों को भेजे एक संदेश में कहा था कि यह हमला रविवार को हुआ. अमेरिकी सैन्य अधिकारियों से टिप्पणी के लिए तत्काल संपर्क नहीं हो सका.

पुलिस ने कहा है कि काबुल के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के उत्तर पश्चिम में स्थित एक इलाके में रविवार को एक रॉकेट आकर गिरा जिसमें एक बच्चे की मौत हो गई. वहीं, देश पर तालिबान के कब्जे के बाद अमेरिका अफगानिस्तान से लोगों को निकालने के अभियान को समाप्त करने की दिशा में बढ़ रहा है.

ड्रोन हमले में गई 7 आम लोगों की जान, नाराज तालिबान ने कहा- कोई खतरा था तो हमें बताता अमेरिका

उधर, अमेरिकी रक्षा विभाग के मुख्यालय पेंटागन ने सोमवार को कहा कि हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे की ओर जा रहे विस्फोटकों से भरे वाहन पर ड्रोन हमले के बाद काबुल में असैन्य नागरिकों के हताहत होने की खबरों से अमेरिका वाकिफ हैं. अमेरिकी सेंट्रल कमान के प्रवक्ता कैप्टन बिल अर्बन ने कहा, ‘हमें आज काबुल में एक वाहन पर हुए हवाई हमले में असैन्य नागरिकों के मारे जाने की जानकारी है. हम इस हवाई हमलों में हुए नुकसान का अब भी आकलन कर रहे हैं….’

source:news18
0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: