WPI Inflation: लगातार पांचवें महीने दहाई अंकों में रही महंगाई, अगस्त में थोक महंगाई दर बढ़कर 11.39 फीसदी हुई

WPI Inflation: देश के आम लोगों को महंगाई ने बढ़ा झटका दिया है. अगस्त के महीने में थोक महंगाई मामूली रूप से बढ़कर 11.39 फीसदी हो गयी. महंगाई लगातार पांचवें महीने दहाई अंकों में रही. इसका मुख्य कारण मैन्युफैक्टर प्रोडक्ट की ज्यादा कीमतें थीं, जबकि खाद्य पदार्थों की कीमतों में नरमी आयी. थोक महंगाई अगस्त में बढ़ी और लगातार पांचवें महीने दोहरे अंकों में रही. जुलाई 2021 में यह 11.16 फीसदी और अगस्त 2020 में 0.41 फीसदी थी.

कॉमर्स मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “अगस्त 2021 में महंगाई के बढ़ने की वजह मुख्य रूप से पिछले साल के इसी महीने के मुकाबले गैर-खाद्य वस्तुओं, खनिज तेलों, कच्चे पेट्रोलियम-प्राकृतिक गैस, मूल धातुओं जैसे विनिर्मित उत्पादों, खाद्य उत्पादों, वस्त्रों, रसायनों और रासायनिक उत्पादों आदि की कीमतों में हुई तेजी है.”

खाद्य पदार्थों की महंगाई लगातार चौथे महीने कम
खाद्य पदार्थों की महंगाई लगातार चौथे महीने कम हुई. जुलाई में शून्य फीसदी के मुकाबले अगस्त में यह (-)1.29 फीसदी थी. जबकि प्याज और दालों की कीमतों में बढ़ोतरी हुई. प्याज की महंगाई 62.78 फीसदी, जबकि दालों की महंगाई 9.41 फीसदी बढ़ी. सब्जियों के मामले में इसमें कमी आयी और यह (-)13.30 फीसदी थी.

कच्चे पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस की महंगाई अगस्त में 40.03 फीसदी बढ़ गयी. विनिर्मित उत्पादों की महंगाई अगस्त में 11.39 फीसदी बढ़ी, जबकि जुलाई में यह 11.20 फीसदी थी.

source:abpnews
0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: