खाते में अचानक आ गए साढ़े पांच लाख रुपये, प्रधानमंत्री ने भेजा है बताकर लौटाने से किया इंकार

खगड़िया, 15 सितंबर (भाषा) बिहार के खगड़िया जिले में एक बैंक उपभोक्‍ता के खाते में अचानक साढ़े पांच लाख रुपये आ गए और उसने इस रकम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भेजा गया बताकर राशि लौटाने से इंकार कर दिया। बाद में उसे गिरफ्तार किया गया।

पढ़ें- थर्ड वेव को लेकर बड़ा अपडेट, दुनियाभर में कोरोना के नए केस और मौतों में आई बड़ी कमी

मानसी थानाध्यक्ष दीपक कुमार ने बुधवार को बताया कि आरोपी का नाम रंजीत दास है जोकि बख्तियारपुर गांव का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि इस मामले में एक ग्रामीण बैंक द्वारा शिकायत किए जाने पर रंजीत को गिरफ्तार किया गया था।

पढ़ें- केंद्र, राज्य और स्वायत्तशासी निकायों कर्मचारियों के लिए जरुरी जानकारी, इस तारीख से अनिवार्य होगा eNPS.. जानिए क्या पड़ेगा असर

मानसी क्षेत्र के उक्त ग्रामीण बैंक की शाखा के अध‍िकार‍ियों का कहना है क‍ि गलती से रंजीत के खाते में रुपये चले गए थे। बाद में राशि का मिलान किए जाने पर रंजीत को उक्त राशि लौटाने को कहा गया तो उसने प्रधानमंत्री द्वारा पूर्व में किए गए अपने वादे के तहत उसे राशि भेजे जाने की बात कहकर पैसे लौटाने से इंकार कर दिया।

पढ़ें- राहुल गांधी के बाद शिल्पा शेट्टी पहुंची माता वैष्णोदेवी के दरबार, हेलीकॉप्टर सेवा रद्द हुई तो पैदल ही की चढ़ाई

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के समय भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में अपने चुनाव अभियान के दौरान नरेंद्र मोदी ने विदेश से कालाधन आने पर हर एक बैंक खाते में 15 लाख रुपये पहुंचाने की बात कही थी।

पढ़ें- टीवी शो.. तारक मेहता की ‘सोनू’ बनेंगी सलमान खान के शो का हिस्सा? हॉटनेस से जीत रही फैंस का दिल 

कानून के अनुसार, किसी बैंक द्वारा गलत तरीके से किसी के खाते में स्थानांतरित धन का उपयोग करना एक दंडनीय अपराध है और वित्तीय संस्थान अपराधी से राशि वसूल करने के लिए स्वतंत्र हैं।

source:zeenews

0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: