मधेपुरा में अंधविश्वास के नाम पर महिला की सरेआम की गई पिटाई, मैला भी पिलाया

Madhepura: आधुनिकता के इस युग में जहां दुनिया चांद और मंगल पर जाकर नए भविष्य की तलाश कर रही है, वहीं अभी समाज में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो पुराने जमाने से चली आ रही दकियानूसी अंधविश्वास के नाम पर ऐसी करतूत को अंजाम देते हैं जो इंसानियत को भी शर्मसार कर देती है.

महिला को डायन बताकर की गई मारपीट
दरअसल, बिहार के मधेपुरा में कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक महिला को डायन बताकर उसे सरेआम पीटा गया और फिर जब लोगों का इससे भी दिल नहीं भरा तो महिला को मैला पिला दिया. वहीं, अपने साथ हुई इस बर्बता के खिलाफ पीड़ित महिला ने थाने में जाकर लिखित शिकायत दर्ज कराई है और पुलिस से न्याय की गुहार लगा रही है.

मामला मुरलीगंज थाना क्षेत्र के दिनापट्टी पंचायत अंतर्गत तिलकोरा गांव का है, जिसके बारे में बताया जा रहा है कि 24 सितंबर को महिला का पति काम के सिलसिले में गांव से बाहर गया हुआ था. जबकि महिला अपने बच्चों के साथ गावं में ही थी कि देर शाम गावं के सतन ऋषिदेव और उसका बेटा प्रकाश ऋषिदेव घर पहुंचे और जबर्दस्ती उसे अपने साथ ले जाने लगे. सत्तन उसे अपनी मृत पत्नी को जिंदा करने की बात कहता था और आरोप लगा रहा था कि उसने ही उसकी पत्नी को जादू से मारा है.

महिला को पिलाया गया मैला
वहीं, जब महिला ने कहा की वो डायन नहीं है तो उसके साथ काफी मारपीट की गयी और उसे मैला भी पिलाया गया. घटना के बाद से पीड़िता और उसका पति पुलिस के चक्कर लगाते रहे पर पुलिस ने शुरुआत में कोई पहल नहीं की. लेकिन जब इस खबर को जी मीडिया ने उठाया तब एसपी योगेन्द्र कुमार के आदेश पर तीन दिन बाद आठ लोगों के विरुद्ध मुरलीगंज थाना में मामला दर्ज किया गया.

एसपी योगेन्द्र कुमार ने बताया कि प्रारंभिक जांच में मारपीट की पुष्टि हुई है, लेकिन फिलहाल मैला पिलाने की कोई पुष्ठी नहीं हुई है. हालांकि, पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है. दोषी पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.

source:zeenews

0Shares
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: